जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ऑनलाइन, रजिस्टरी, खतौनी, दस्तावेज, बैनामा, रकबा

ज़मीन की रजिस्ट्री कैसे देखें | ज़मीन की खतौनी | ज़मीन के पुराने दस्तावेज | ज़मीन के बैनामा | ज़मीन का रकबा

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें: यदि आप जमीन के बारे में सबसे पुराना दस्तावेज देखना चाहते हैं तो इस लेख को अवश्य देखें। जमीन खरीदते और बेचते समय यह पहचानना जरूरी है कि जमीन के मालिक की पहचान क्या है। जब हमें जमीन के कागजात या रजिस्ट्री से संबंधित दस्तावेजों की आवश्यकता होती थी तो हम राजस्व विभाग का दौरा करते थे और निर्धारित प्रारूप के अनुसार आवेदन भरते और फिर हम लंबे समय के इंतज़ार के बाद जमीन से जुडी जानकारी देख पाते थे जिसमें समय और पैसा दोनों बर्बाद होता था। हालाँकि, अब सब तरह के जमीन रिकॉर्ड ऑनलाइन हो गए है और आप इसे अपने घर बैठे जाँच सकते है।

आज डिजिटल इंडिया के हिस्से के रूप में, अधिकांश सुविधाएं ऑनलाइन हैं। मोबाइल फोन के साथ-साथ इंटरनेट के आगमन के साथ, आप अपने घर पर बैठे-बैठे ही जमीन से जुडी किसी भी तरह की जानकरी घर बैठे पता कर सकते है। इन्ही सुविधाओं में शामिल अब आप जमीन(भूमि) से जुड़े पुराने रिकॉर्ड, रजिस्टरी, खतौनी, दस्तावेज, बैनामा, रकबा आदि के डिटेल सब ऑनलाइन घर बैठे देख सकते हैं। नीचे दिए कुछ चरणों को पढ़कर आप इस सुविधा का आसानी से फायदा उठा सकते है। यह सुविधा हर राज्य में राज्य के राजस्व विभाग ने ऑनलाइन वेबसाइट बनाकर की है जहां पर पुरे राज्य के जमीन से जुडी जानकारी फ्री में और आसानी से उपलब्ध है। हालाँकि, अधिकांश लोगों को सिस्टम के बारे में जानकारी की कमी के कारण इसका लाभ नहीं मिलता है। इस लेख को पढ़ने के बाद आप आपकी ज़मीन से जुड़े किसी भी तरह के रिकॉर्ड बहुत आसानी से प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

यह भी पढ़े : य प्रमाण पत्र कैसे बनाएं? पूरी जानकारी

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ऑनलाइन ?

पिपिछले जमीन रिकॉर्ड को सत्यापित करने के लिए, आपको अपने राज्य के राजस्व विभाग की वेबसाइट पर अपने खाते में लॉगिन करना होगा।

जमीन रिकॉर्ड तक पहुंचने के लिए साइट पर लॉगिन करें

बिहार राज्य के राजस्व विभाग के द्वारा जमीन रिकॉर्ड देखने के लिए आधिकारिक वेबसाइट बनाई है, जिसका वेब एड्रेस है- bhumijankari.bihar.gov.in आप इस वेब पते को अपने मोबाइल या कंप्यूटर से खोल सकते हैं।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें
zameen record
  • पंजीकृत दस्तावेज देखने के लिए विकल्प सेलेक्ट करें

आप जैसे ही आधिकारिक वेबसाइट bhumijankari.bihar.gov.in ओपन करते है तो आपको स्क्रीन पर डिफरेंट ऑप्शन दिखाई देंगे, जिसमें से की आपको व्यू रेजिस्टरड डॉक्यूमेंट ऑप्शन सेलेक्ट करना है।

  • रिकॉर्डिंग की तारीख चुनें

अगले स्टेप में आपके सामने लैंड डॉक्यूमेंट खोजने का विकल्प दिखाई देगा किन्तु उससे पहले आपको दिए गए 3 विकल्प में से एक को चुनना होगा यह विकल्प आपको सभी पुराने और नए रिकॉर्ड साल अनुसार आपको रिकॉर्ड देखने की सुविधा देता है।

  • Online Registration (2016 To Till Date)
  • Post Computerisation (2006 To 2015)
  • Pre Computerisation (Before 2005)

 उदाहरण के लिए, यदि अगर हमें लैंड रिकॉर्ड 2005 के पहले का देखना है तो हम Pre Computerisation विकल्प चुनेंगे और फिर, चरण 1 या 2 में से किसी एक का चयन करें।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड prior to Pre Computerisation
  •  खोज विकल्प चुनें

पुराने जमीन के रिकॉर्ड देखने के लिए यहाँ सर्च ऑप्शन पर क्लिक करे फिर आप प्रॉपर्टी रिकॉर्ड में से किस तरह अपनी जानकारी ढूंढ़ना चाहते है ऑप्शन को सलेक्ट करे

  • Registration Office
  • Property Location
  • Circle

आप इस विकल्प का उपयोग करके अपनी जमीन से जुड़े पिछले रिकॉर्ड देख सकते है।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड prior to Pre Computerization detail form
  • अधिक जानकारी देखने के लिए क्लिक हियर बटन कको सेलेक्ट करे”

आपके द्वारा खोज के लिए बॉक्स में जानकारी दर्ज करने के बाद, पुस्तक का प्रकार दिखाई देगा। यह उन अभिलेखों की संख्या भी दिखाएगा जो इसके भीतर पाए गए थे। इस विशेष रिकॉर्ड को देखने के लिए, “विवरण देखने के लिए यहां क्लिक करें” पर क्लिक करें और अधिक विवरण विकल्प देखने के लिए यहां क्लिक करें।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड prior to Pre Computerization view detail page
  •  पुराने जमीन रिकॉर्ड देखें

अगला चरण में आपको सभी रिकॉर्ड के साथ-साथ उनके नामों की एक सूची दिखेगी। इन सबमें से आप उन रिकॉर्ड को सलेक्ट करे जिसका पुराना रिकॉर्ड आप देखना चाहते है और फिर क्लिक व्यू डॉक्यूमेंट पर क्लिक करें। जैसा कि हमने नीचे इमेज में बताया है।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड prior to Pre Computerisation DSRO
  •  चेक डीड विवरण

जैसे ही आप व्यू डिटेल ऑप्शन सेलेक्ट करेंगे, पुराने डॉक्यूमेंट की सेल/परचेस डीड आपके सामने प्रस्तुत हो जाएगी, जिसमें सन्दर्भित ज़मीन के हर तरह सेल / परचेस जानकारी होगी। फिर आप जमीन से संबंधित सभी सूचनाओं की जाँच कर सकते हैं।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड DEED Detail

अलग-अलग राज्य अनुसार जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ?

उपरोक्त लेख में, हमने बिहार राज्य के भीतर जमीन के पुराने दस्तावेजों और रिकॉर्ड को देखने के लिए जानकारी प्रदान कि है। इसके अलावा, अन्य राज्यों ने भी जमीन रिकॉर्ड को डिजिटल और आसान पहुँच हेतु ऑफिसियल वेबसाइट बनायीं है। आप जिस भी राज्य का हिस्सा हैं, अन्य राज्यों की भी ऑफिसियल वेबसाइट तक पहुंचने के लिए नीचे दिए गए राज्यवार अनुसार लिस्ट में उनके सामने दिए हुए लिंक पर क्लिक करें हैं।

राज्य का नामभूमि जानकारी
Andhra Pradesh (आंध्र प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Assam (असम)यहाँ क्लिक करें
Arunachal Pradesh (अरुणाचल प्रदेश)
Bihar (बिहार)यहाँ क्लिक करें
Chhattisgarh (छत्तीसगढ़)यहाँ क्लिक करें
Delhi (दिल्ली)यहाँ क्लिक करें
Gujarat (गुजरात)यहाँ क्लिक करें
Goa (गोवा)
Haryana (हरियाणा)यहाँ क्लिक करें
Himachal Pradesh (हिमाचल प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Jharkhand (झारखंड)यहाँ क्लिक करें
Kerla (केरल)यहाँ क्लिक करें
Karnataka (कर्नाटक)यहाँ क्लिक करें
Maharashtra (महाराष्ट्र)यहाँ क्लिक करें
Madhya Pradesh (मध्य प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Manipur (मणिपुर)यहाँ क्लिक करें
Meghalaya (मेघालय)
Mizoram (मिजोरम)
Nagaland (नागालैंड)
Odisha (उड़ीसा)यहाँ क्लिक करें
Punjab (पंजाब)यहाँ क्लिक करें
Rajasthan (राजस्थान)यहाँ क्लिक करें
Sikkim (सिक्किम)
Tamil Nadu (तमिल नाडू)यहाँ क्लिक करें
Telangana (तेलंगाना)यहाँ क्लिक करें
Tripura (त्रिपुरा)यहाँ क्लिक करें
Uttar Pradesh (उत्तर प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Uttrakhand (उत्तराखंड)यहाँ क्लिक करें
West Bengal (पश्चिम बंगाल)यहाँ क्लिक करें
State-Wise Table

यह महत्वपूर्ण है कि हम सभी पुराने जमीन  रिकॉर्ड प्राप्त करने के तरीकों से अवगत हों। इस पोस्ट को सोशल हम चाहते है की आप सब रीडर अलग-अलग तरह ज़मीन रिकॉर्ड पता करने के तरीकों से अपडेट रहे ताकि आप अपना कीमती समय और धन बचा सके, इसलिए हम चाहेंगे की आप हमारे इस आर्टिकल को शेयर करें और अधिक से अधिक लोगो को जागरूक करने में हमारी मदद करें। ऐसी ही कई सरकारी सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारी वेबसाइट Rajasthan-University.in को सब्सक्राइब करें शुक्रिया !

FAQ

प्रश्न 1. मैं अपनी संपत्ति के पुराने रिकॉर्ड प्राप्त करने के लिए क्या करूं?

उत्तर:- अपनी जमीन के पुराने अभिलेखों की जांच करने के लिए, आपको उस राज्य के आधिकारिक जमीन अभिलेखों के लिए वेबसाइट पर जाना होगा जिसमें आपका क्षेत्र है। आप अपना वर्ष, जिला, तहसील या गांव, और प्रकाश विवरण दर्ज करके अपनी जमीन का पिछला दस्तावेज देख सकते हैं।

प्रश्न 2. मुझे अपने पुश्तैनी घर के लिए कानूनी दस्तावेज कहां से मिलेंगे?

उत्तर:- आप अपने राज्य के जमीन अभिलेखों के लिए आधिकारिक वेब साइट के माध्यम से अपनी पैतृक जमीन के आधिकारिक दस्तावेज पा सकते हैं। अगर आप अपनी पुश्तैनी जमीन का नक्शा ढूंढ रहे हैं तो अपनी जमीन के नक्शे की आधिकारिक साइट पर जाएं और अधिक जानकारी के लिए Rajasthan-University.in पर दिए गए आर्टिकल पढ़े।

प्रश्न 3: इंटरनेट पर कौन से जमीन  रिकॉर्ड उपलब्ध हैं?

उत्तर:- आप हर संपत्ति के पुराने  रिकॉर्ड ऑनलाइन देख सकते हैं, और यह मुफ़्त है। यदि आप अपनी जमीन के पिछले  रिकॉर्ड तक पहुंचने में असमर्थ हैं, तो संभव है कि सरकार ने अभी तक जमीन को ऑनलाइन डेटाबेस में अपलोड नहीं किया है। ऐसे में आप अपनी जमीन के पुराने रिकॉर्ड देखने के साथ-साथ जरूरी दस्तावेज हासिल करने के लिए नजदीकी विभाग या राजस्व विभाग के कार्यालय में जा सकते हैं।

प्रश्न 4. किस राज्य में पुराने जमीन रिकॉर्ड इंटरनेट पर उपलब्ध हैं?

उत्तर:- राजस्थान, हरियाणा, बिहार, मध्य प्रदेश और अन्य सभी राज्यों में पुराने जमीन रिकॉर्ड ऑनलाइन उपलब्ध हैं।

निष्कर्ष:-

इस पोस्ट में हमने आपको यह समझने की कोशिश की है की हर राज्य में आपकी संपत्ति के पिछले रिकॉर्ड को ऑनलाइन कैसे एक्सेस किया जाए। अगर कोई रिश्तेदार या दोस्त आपकी संपत्ति के पुराने रिकॉर्ड से छुटकारा पाना चाहता है और उसे हटाना चाहता है, तो उसे यह लेख फॉरवर्ड करें। यदि आपको किसी भी जमीन दस्तावेज को ऑनलाइन एक्सेस करने में समस्या हो रही है, तो आप हमसे टिप्पणी अनुभाग के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं। हम जल्द से जल्द आपके प्रश्नों की सहायता करने में सक्षम होंगे।

1 thought on “जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ऑनलाइन, रजिस्टरी, खतौनी, दस्तावेज, बैनामा, रकबा”

Leave a Comment